मुठभेड़ का सामान्य अर्थ एक प्रकार का हिंसात्मक संघर्ष है। यह कभी-कभी दो गैर-क़ानूनी गुटों में, सेनाओं के बीच और साधारण रूप से पुलिस और अपराधियों के बीच होता है। किन्तु 'मुठभेड़' का कानूनी अर्थ है, 'पुलिस या किसी अन्य सशस्त्र बल द्वारा, अपनी रक्षा करने के लिए, किसी गिरोहबाज अपराधी या आतंकवादी को मार गिराना'।

'मुठभेड़' या 'इन्काउण्टर' शब्दों का उपयोग भारत और पाकिस्तान में २०वीं शताब्दी से (विशेष अर्थ में) हो रहा है।

१९९० तथा मध्य २००० के दशक में मुम्बई पुलिस ने नगर के कई भूमिगत अपराधियों को मार गिराया था। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद १० माह में ११४२ मुठभेड़ें हुईं।[1][2]

'मुठभेड़' को लेकर कई बार विवाद भी होता है। कुछ मानवाधिकार संगठन और कुछ अन्य लोग इस प्रकार के मुठभेड़ की घटनाओं को "फ़र्ज़ी मुठभेड़" कहते हैं जबकि पुलिस के अधिकारी घटना-स्थल से प्राप्त वस्तुओं के आधार पर उन्हें सही ठहराते हैं।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "CM योगी आदित्यनाथ कानून-व्यवस्था को लेकर गंभीर, 10 महीने में 1142 एनकांउटर". मूल से 18 फ़रवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 फ़रवरी 2018.
  2. "यूपी: 2017 में हुए कुल 895 पुलिस एनकाउंटर, मिला पूरे साल का पुलिस डेटा". मूल से 18 फ़रवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 फ़रवरी 2018.