मोनोफेलटिक समूह जिसे क्लेड भी कहा जाता है वोह समूह होता है जिसमे की सभी शामिल जातीय या उपजातिया या तो विलुप्त हो चुकी है या इसके कगार पे है। ध्यान देने योगय है की जरूरी नहीं की इस समूह से सम्बंधित सभी अन्य समूह की भी सभी जातीया नष्ट हो चुकी हो. यह भी संभव होता है की एक समूह का विकास किसी अन्य हिस्से में हो रहा हो व उसके मुख्य समूह खतम हो चुके हो.[1]

क्लेडोग्राम. चित्र दर्शाता है की दो समुहो जैसे की नीले व लाल से निकलकर हरा समूह बना है व जरूरी नहीं की नीला व लाल समूह विलुप्त नहीं हुआ हो

क्लेड शब्द को अंग्रेजी जिवविज्ञानी जूलियन हक्सले ने उतपतित किया था।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Dupuis, Claude (1984). "Willi Hennig's impact on taxonomic thought". Annual Review of Ecology and Systematics. 15: 1–24. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0066-4162.