मुख्य मेनू खोलें

मोह दीर्घकालिक लक्ष्यों के डर से किसी लघुकालिक आनन्द में अपने आप की इच्छा जागृत करने की प्रवृति को कहते हैं।[1]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Webb, J.R. (Sep 2014). Incorporating Spirituality into Psychology of temptation: Conceptualization, measurement, and clinical implications. Spirituality in Clinical Practice. 1.3. PP: 231-241 (मोह के तुल्य अंग्रेज़ी शब्द टेम्पटेशन का उल्लेख)