यज़ीद इब्न मुयाविया इब्नाबी सुफ़्यां अरबी: يزيد بن معاوية بن أبي سفيان‎ (23 जुलाई 647 – 14 नवम्बर 683) जिसे मुख्यतः यज़ीद प्रथम के नाम से जाना जाता है, उमय्यद खलीफा का तृतीय ख़लीफ़ा था। उसे ख़लीफ़ा के पद पर उसके पिता मुयाविया प्रथम ने नियुक्त किया और वो तीन वर्षों तक 680 ई॰ से मृत्यु 683 ई॰ तक इस पद पर रहा।

यज़ीद प्रथम
उमय्यद के ख़लीफ़ा
शासनावधि680 – 683
पूर्ववर्तीमुयाविया प्रथम
उत्तरवर्तीमुयाविया द्वितीय
जन्म23 जुलाई 647 (11 शव्वाल 26 एएच)[1]
निधन14 नवम्बर 683 (15 रबि उल-अव्वाल 64 एएच)[1]
संतानमुयाविया द्वितीय
खालिद
अतिकाह
पूरा नाम
यज़ीद इब्न मुयाविया इब्नाबी सुफ़्यां
राजवंशउमय्यद
पितामुयाविया प्रथम
मातामैसून बिन्त बजदाल अल-कुलाइबि अल-नसरानिया (ईसाई)[1]

दुन्या भर के मुअलमान उसपे लानत भेजते हैं. [2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Ibn Hajar Al-Asqalani, Ahmad bin Ali. Lisan Al-Mizan: Yazid bin Mu'awiyah.
  2. http://sunniport.com/index.php?threads/abu-sufyan-muawiya-yazeed.11671/. अभिगमन तिथि 13 नवम्बर 2020. गायब अथवा खाली |title= (मदद)