यरसिनिया (Yersinia) ग्राम-ऋणात्मक बैक्टीरिया का एक जीववैज्ञानिक वंश है। इसकी सदस्य जातियों कुछ माइक्रोमीटर लम्बी और व्यास में एक माइक्रोमीटर से कम आकार के विकल्पी अवायुजीव होते हैं।[1] कुछ जातियाँ मानवों में रोगजनक होती हैं, जैसे कि प्लेग की कारक यरसिनिया पेस्टिस (Yersinia pestis) जाति। यह रोगकारी जातियाँ अक्सर चूहे जैसे कृतंकों द्वारा फैलाई जाती हैं। अधिकांश में यह रक्त द्वारा फैलती हैं लेकिन कुछ में आहार इनके फैलाव का ज़रिया होता है। कुछ जातियों में बहुत कम तापमान (जैसे कि फ़्रिज में 1–4 °सेंटीग्रेड तक) सक्रीय रहने की क्षमता होती है।[2]

यरसिनिया
Yersinia pestis.jpg
यरसिनिया पेस्टिस (Yersinia pestis)
वैज्ञानिक वर्गीकरण
अधिजगत: बैकटीरिया (Bacteria)
संघ: प्रोटियोबैक्टीरिया (Proteobacteria)
वर्ग: गामाप्रोटियोबैक्टीरिया (Gammaproteobacteria)
गण: एंटेरोबैक्टीरियेलीस (Enterobacteriales)
कुल: यरसिनियेसी (Yersiniaceae)
वंश: यरसिनिया (Yersinia)
वैन लोगेम, 1944
जातियाँ

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Ryan KJ; Ray CG (editors) (2004). Sherris Medical Microbiology (4th संस्करण). McGraw Hill. पपृ॰ 368–70. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-8385-8529-9.सीएस1 रखरखाव: फालतू पाठ: authors list (link)
  2. Adeolu, M.; et al. (2016). "Genome based phylogeny and taxonomy of the 'Enterobacteriales': proposal for Enterobacterales ord. nov. divided into the families Enterobacteriaceae, Erwiniaceae fam. nov., Pectobacteriaceae fam. nov., Yersiniaceae fam. nov., Hafniaceae fam. nov., Morganellaceae fam. nov., and Budviciaceae fam. nov". Int. J. Syst. Evol. Microbiol.