यवेस चौवीं (Yves Chauvin; 10 अक्टूबर 1930 – 27 जनवरी 2015) एक फ़्रांसीसी रसायनज्ञ थे। उन्हें रॉबर्ट हावर्ड ग्रुब्स और रिचर्ड रॉयस सरोक के साथ संयुक्त रूप से "कार्बनिक संश्लेषण में वर्णव्यत्यय पद्धति के विकास" पर किये गये अपने कार्य के लिए २००५ में रसायन शास्त्र में नोबेल पुरस्कार मिला।[1]

Yves Chauvin
जन्म 10 अक्टूबर 1930
Menen, Belgium
मृत्यु जनवरी 27, 2015(2015-01-27) (उम्र 84)
Tours, France
राष्ट्रीयता France
संस्थान French Institute of Petroleum
शिक्षा Lyon School of Chemistry, Physics, and Electronics
प्रसिद्धि Deciphering the process of metathesis
उल्लेखनीय सम्मान Nobel Prize in Chemistry (2005)

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "The Nobel Prize in Chemistry 2005". नोबेल प्राइज़ डॉट ओर्ग. मूल से 23 अक्तूबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 नवम्बर 2013.