युरिप्टेरिडा या समुद्री बिच्छु आर्थ्रोपोडा का एक विलुप्त जीववैज्ञानिक गण है जो अरैकनिडा (मकड़ी और सम्बन्धित प्राणी) से सम्बन्धित है और जिसमें विश्व के सबसे बड़े ज्ञात आर्थ्रोपोड थे। हालांकि इनका नाम "समुद्री बिच्छु" है, यह बिच्छु नहीं थे और इनकी केवल सबसे पहली उत्पन्न हुई जातियाँ ही सागर में रहती थीं (बाद में विकसित हुई जातियाँ मीठे पानी या अर्ध-खारे पानी में रहती थीं)। इसकी अधिकांश जातियाँ 20 सेंटीमीटर से कम थी लेकिन सबसे बड़ी जाति की लम्बाई 2.5 मीटर (8 फ़ुट 2 इंच) थी।[1][2]

युरिप्टेरिडा
Eurypterida
सामयिक शृंखला: Darriwilian-Late Permian, 470–252 मिलियन वर्ष
Haeckel Eurypterus tetragonophthalmus.jpg
युरिप्टेरिड (एर्न्स्ट हैकल की 1904 पुस्तक "कुन्स्टफ़ोर्मेन डर नाटूर" से)
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: जंतु
अधिसंघ (: एक्डीसोज़ोआ (Ecdysozoa)
संघ: आर्थ्रोपोडा (Arthropoda)
उपसंघ: केलीसेराटा (Chelicerata)
वर्ग: मेरोस्टोमाटा (Merostomata)
गण: युरिप्टेरिडा (Eurypterida)
बर्माइस्टर, 1843
उपगण

Stylonurina डीनर, 1924
Eurypterina बर्माइस्टर, 1843

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Dunlop, J. A.; D. Penney; O. E. Tetlie; L. I. Anderson (2008). "How many species of fossil arachnids are there?". Journal of Arachnology. 36 (2): 267–272. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0161-8202. डीओआइ:10.1636/CH07-89.1.
  2. Joseph T. Hannibal; Spencer G. Lucas; Allan J. Lerner; Dan S. Chaney (2005). S. G. Lucas; K. E. Zeigler; J. A. Spielmann (संपा॰). "The Permian of Central New Mexico" (PDF). New Mexico Museum of Natural History and Science Bulletin. 31: 34–38. मूल से 4 मार्च 2016 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 22 मार्च 2017. |chapter= ignored (मदद)