रपालो की संधि (१९२२)

प्रथम विश्व युद्ध में जर्मनी और रूस की संधि

रपालो की संधि 16 अप्रैल 1922 को जर्मनी और रूसी सोवियत संघीय समाजवादी गणराज्य के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। इसके अंतरगत प्रथम विश्व युद्ध के शत्रु रूस और जर्मनी इटली के शहर रपालो में तय किया था कि वे उन क्षेत्रीय और वित्तीय दावों को छोड़ देंगे जो 1918 में ब्रेस्ट-लिटोव्सक के शांति समझौते (Peace Treaty of Brest-Litovsk) के अंतरगत उन्हें प्राप्त हुए थे।[1]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 8 नवंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 नवंबर 2018.