मुख्य मेनू खोलें

'रस्सी' या 'रज्जु रेशों (फाइबर) को ऐंठकर या चोटी-पूरकर (ब्रेडिंग करके) बनायी जाती है जिससे इनकी शक्ति बढ़ जाती है। यांत्रिक दृष्टि से रस्सी में तनाव झेलने की शक्ति (टेंसाइल स्ट्रेंथ) तो होती है किन्तु इसकी कम्प्रेसिव स्ट्रेंथ (दबाव झेलने की शक्ति) नगण्य होती है क्योंकि यह लचीली होती है। इसका दूसरे शब्दों में अर्थ यह है कि खींचने के लिये तो इसका प्रयोग किया जा सकता है किन्तु धकेलने (पुशिंग) के लिये नहीं।

रचनासंपादित करें

 
मशीन द्वारा रस्सी निर्माण
 
तीन रेशों को ऐंठकर बनायी गयी एक रस्सी

रस्सी बनाने में प्रयोग किये जाने वाले मुख्य चीजें हैं निम्नलिखित हैं-

== उपयोग == चारपायी बनाने में

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें