रूपी कौर कनाडा की एक नारीवादी कवि, लेखक है, और बोले शब्द की कलाकार। उसे अपने कविताओं को ऑनलाइन पोस्ट करने से लाभ के लिए "इन्स्टापोएट" के रूप में जाना जाता है, जिसमें इंस्टाग्राम उसका प्राथमिक प्लेटफॉर्म है।[1]  उसने  2015 में कविता और गद्य की एक पुस्तक प्रकाशित की जिसका सिरलेख है दूध और शहद , जो हिंसा, शोषण, प्रेम, हानि, और स्त्रीत्व के विषयों को मुखातिब है। [2]

रुपी कौर
Rupi Kaur reading from her book milk and honey in Vancouver - 2017.jpg
जन्म5 अक्टूबर 1992 (1992-10-05) (आयु 29)
पंजाब, भारत
व्यवसायलेखक, कवि
भाषाअंग्रेज़ी
नागरिकताकनेडीअन
उल्लेखनीय कार्यsMilk and Honey
जालस्थल
www.rupikaur.com

ज़िंदगीसंपादित करें

रूपी कौर पंजाब, भारत में पैदा हुई थी और अपने माता पिता के साथ टोरंटो, कनाडा में चली गई थी जब वह 4 साल की थी। एक बच्ची के रूप में, उसनेअपनी मां से चित्र बनाने और पेंट करने कि प्रेरना ली थी।वह अपने दोस्तों को उनके जन्मदिन कविताएं लिख देती या अपने माध्यमिक स्कूल कर्शस को संदेश लिखती थी।  उस ने वॉटरलू विश्वविद्यालय, ओन्टेरियो में सुभाषन-कला व्यावसायिक लेखन का अध्ययन किया।  वह वर्तमान में अपने माता-पिता और चार भाइयों के साथ ब्रैंपटन, ओन्टेरियो में रहती हैं। [3] ब्रैम्पटन में टिकाना करने से पहले कौर और उनके परिवार ने बार बार, कुल मिलाकर सात बार जगह बदली की थी। [4]

कामसंपादित करें

कौर ने सामाजिक मीडिया वेबसाइटों जैसे कि इंस्टाग्राम और टंबलर के माध्यम से ऑनलाइन कविता में अपना कैरियर शुरू किया। उनके अधिक उल्लेखनीय कार्यों में माहवारी पर उनका फोटो-निबंध है, जो कि मासिक धर्म के सामाजिक टैबूओं को चुनौती देने के लिए दृश्य कावि के एक टुकड़ा के रूप में वर्णित है।[5] उसके कार्यों में पाए गए अन्य सामान्य विषयों में गाली, स्त्रीत्व, प्रेम और दिल का दर्द शामिल हैं। अक्टूबर 2015 में, कौर ने अपना सामूहिक कार्य दूध और शहद पुस्तक में प्रकाशित किया।[6] रूपी कौर ने कहा है कि सशक्तीकरण लिखने के लिए उनकी पसंदीदा चीज है क्योंकि "यह मेरी अपने आप की सबसे अच्छी दोस्त बनने और मुझे मेरी जरूरत की सलाह देने की तरह है"[7] रूपी ने एंड्रयूज मैकमील पब्लिशिंग और शूस्टर कनाडा के साथ दो और किताबों को रिलीज करने का अनुबंध किया है, जिसमें से पहली को 2017  की पतझड़ में जारी किया जाना है[8]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Flood, Alison (2016-09-13). "Poet Rupi Kaur's Milk and Honey sells more than half a million copies". The Guardian (अंग्रेज़ी में). आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0261-3077. मूल से 11 मार्च 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-10-08.
  2. "Milk & Honey: A Poet Exposes Her Heart". Kaur Life. 2014-11-20. मूल से 6 अगस्त 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-10-08.
  3. El-Safty, Amirah. "Internet Made the Poetry Star: The digital life and times of poet and artist Rupi Kaur". The Walrus. The Walrus. मूल से 7 अप्रैल 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 March 2016.
  4. "How Rupi Kaur Became the Voice of Her Generation". Flare (अंग्रेज़ी में). 2016-11-11. मूल से 12 मई 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-12-08.
  5. Briscoll, Drogan. "Feminist Artist Rupi Kaur, Whose Period Photograph Was Removed From Instagram: 'Men Need To See My Work Most'". Huffington Post. Huffington Post. मूल से 1 अप्रैल 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 March 2016.
  6. "Poet and artist Rupi Kaur battled taboos about women's bodies – and broke the internet". CBC. Canadian Broadcasting Corporation. मूल से 2 अप्रैल 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 March 2016.
  7. "A poet and rebel: How Insta-sensation Rupi Kaur forced her way to global fame". http://www.hindustantimes.com/. 2016-10-22. मूल से 21 अप्रैल 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-12-08. |newspaper= में बाहरी कड़ी (मदद)
  8. "Rupi Kaur to Publish Two with Andrews McMeel". PublishersWeekly.com. मूल से 21 दिसंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-12-08.