रूर (Ruhr) (German pronunciation: [ˈʁuːɐ̯], जर्मन : Ruhrgebiet), या रूर क्षेत्र (Ruhr district या Ruhr region) जर्मनी के उत्तरी राइन-वेस्टफेलिया का एक शहरी क्षेत्र है। इस क्षेत्र का जनसंख्या घनत्व 2,800/km² तथा जनसंख्या ८५ लाख है। यह जर्मनी का सबसे बड़ा नगरीय क्षेत्र है और यूरोपीय संघ का तीसरा सबसे बड़ा नगरीय क्षेत्र है।[3] इस क्षेत्र में कई विशाल औद्योगिक नगर हैं। इस क्षेत्र की दक्षिणी सीमा पर रूर नदी, पश्चिम में राइन , और उत्तर में लिप्पे नदी है। दक्षिण-पश्चिम में बर्गिश्चेज लैण्ड (Bergisches Land) है।

रूर क्षेत्र (Ruhr Metropolis)
Metropole Ruhr
Flag of रूर क्षेत्र (Ruhr Metropolis)
ध्वज
Official seal of रूर क्षेत्र (Ruhr Metropolis)
Seal
map of the Ruhr metropolitan region within Germany
map of the Ruhr metropolitan region within Germany
निर्देशांक: 51°30′N 7°30′E / 51.500°N 7.500°E / 51.500; 7.500निर्देशांक: 51°30′N 7°30′E / 51.500°N 7.500°E / 51.500; 7.500
CountryFlag of Germany.svg जर्मनी
Stateसाँचा:देश आँकड़े North Rhine-Westphalia
Largest Cities
शासन
 • सभाRegionalverband Ruhr
क्षेत्रफल
 • महानगर4435 किमी2 (1,712 वर्गमील)
अधिकतम ऊँचाई441 मी (1,447 फीट)
निम्नतम ऊँचाई13 मी (43 फीट)
जनसंख्या
 • महानगर8,572,745
 • महानगरीय घनत्व1646 किमी2 (4,260 वर्गमील)
समय मण्डलCET (यूटीसी+1)
GRP2007
Nominal136($186) billion[1]
वेबसाइटwww.metropoleruhr.de

यहाँ यूरोप का सबसे बड़ा एवं विश्वविख्यात कोयला क्षेत्र है। जर्मनी का ८०% कोयला रूर क्षेत्र से निकाला जाता है। यहाँ से कोयले का निर्यात भी होता है। इसके समीप सीगन नामक स्थान पर कुछ लोहा भी मिलता है। यहाँ से राइन द्वारा कच्चा एवं तैयार माल बाहर भेजने की अच्छी सुविधा है। यह मध्य यूरोप तुल्य जलवायुवाले प्रदेश में पड़ता है। अत: इन कोयला क्षेत्रों के निकट विभिन्न उद्योग धंधों के, जिनमें लोहा इस्पात, सूती, ऊनी तथा रेशमी वस्त्र मुख्य हैं, स्थापित होने के कारण यह यूरोप का एक प्रधान औद्योगिक क्षेत्र बन गया है। यद्यपि स्थानीय लोहा अपर्याप्त है, तथापि बहुत सा लोहा फ्रांस और स्वीडेन से मँगाया जाता है।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. metropoleruhr.de
  2. highest: Wengeberg in Breckerfeld, lowest: Xanten
  3. Demographia: World Urban Areas Archived 5 अगस्त 2011 at the वेबैक मशीन.. Retrieved 31 July 2016.