रोज़ा लुईज़ मक्कॉली पार्क्स (४ फ़रवरी १९१३ – २४ अक्टूबर २००५) अफ़्रीकी-अमेरिकी नागरिक अधिकार कार्यकर्त्ता थीं जिन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका की कांग्रेस ने "द फ़र्स्ट लेडी ऑफ़ सिविल राइट्स" (नागरिक अधिकारों की पहली औरत) और "द मदर ऑफ़ द फ्रीडम मूवमंट" (आज़ादी लहर की माँ) नामों से पुकारा।[1]

रॉज़ा पार्क्स
Rosaparks.jpg
1955 में रॉज़ा पार्क्स, with मार्टिन लूथर किंग जूनीअर के साथ
जन्म रोजा लुईज़ मक्कॉली
4 फ़रवरी 1913
टस्कागी, अलाबामा, यू.एस.
मृत्यु अक्टूबर 24, 2005(2005-10-24) (उम्र 92)
डेट्रॉइट, मिशीगन, यू.एस.
राष्ट्रीयता अमेरिकी
व्यवसाय नागरिक अधिकार कार्यकर्ता
गृह स्थान टस्कागी, अलाबामा
प्रसिद्धि कारण मोंटगोमेरी बस बॉयकॉट
जीवनसाथी रेमंड पार्क्स (1932–1977)
हस्ताक्षर
Rosa Parks Signature.svg

रोजा लुईज़ मक्कॉली का जन्म टस्कागी, अलाबामा पर 4 फ़रबरी 1913 को हुआ था।

1 दिसंबर 1955 को मोंटगोमेरी, अलाबामा में जब बस में काम से घर वापस आ रही थी और अपनी सीट पर बस में बैठी हुई थी। एक गोरे ने उसको सीट छोड़ने को कहा। रोज़ा अपनी सीट पर बैठी रही। उसको पुलिस ने पकड़ लिया परन्तु अगले दिन उसको चढ़ा लिया गया। अदालत ने उसपर 5 दिसंबर को जुर्माना कर दिया। इसी दिन को अफ़्रीकी-अमरीकी समुदाय ने मिलकर बसों का बॉयकॉट किया।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Pub.L. 106-26, अभिगमन तिथि: 17 अगस्त 2014, उचित उद्धरण पीडीएफ अथवा टेक्स्ट पर क्लिक करके देखा जा सकता है।