लंगकावी (मलय: Langkawi Permata Kedah) अंडमान सागर में स्थित मलेशिया का एक द्वीपसमूह है जो पर्यटन के लिये जाना जाता है। इसमें १०४ द्वीप हैं, जो मलेशिया कि मुख्य भूमि से ३० किमी उत्तर-पश्चिम में स्थित है। जब समुद्र का पानी उतार पर होता है तो पांच और द्वीप सतह पर आ जाते हैं। यह मलेशिया के केदाह राज्य का भाग है। इन द्वीपों का कुल क्षेत्रफ़ल ५२८ वर्ग किमी है। पूरे द्वीपसमूह में एक द्वीप अन्य सभी द्वीपों से कहीं अधिक बड़ा है और उसका नाम भी लंगकावी द्वीप है।[1]

लंगकावी द्वीपसमूह का मानचित्र

विवरणसंपादित करें

यह मलेशिया एक बहुत सुंदर द्वीप है और यहां के प्राकृतिक सौंदर्य में विविधता भी पाई जाती है। लांगकवी द्वीप पर्यटन के लिये भी बहुत प्रसिद्ध है और १ जून २००७ को इसे युनेस्को द्वारा वैश्विक जियोपार्क का दर्जा दिया गया। भारतीय पर्यटक भी यहाँ बडी़ संख्या में जाते है। वहां जाने वाले भारतीयों में शॉपिंग करने वालों और प्राकृतिक सुंदरता को निहारने वालों की तो अच्छी संख्या है ही, उनकी संख्या भी है जो व्यावसायिक मीटिंग के लिये भी यहाँ जाते है। भारतीयों की संख्या में वृद्धि होने की कारण से वहां का पर्यटन विभाग सेवा क्षेत्र में लगे लोगों- टैक्सी ड्राइवरों, रेस्तरां ऑपरेटरों, शॉपिंग सेंटर कर्मचारियों, आदि के लिए विशेष हिन्दी के कोर्स चला रहा है ताकि भारतीय पर्यटकों को सुविधा रहे। भारतीयों के लिए खास टूरिस्ट पैकेज भी लाए जा रहे हैं। इस स्थान की पसंद इतनी है कि भारत के एक धनकुबेर ने हाल ही में अपनी शादी तक के लिए इसे चुन लिया था। लंगकावी की केबल कार और यहां का स्काई ब्रिज बहुत अनूठे हैं। स्काई ब्रिज समुद्र तल से ७०० मीटर ऊपर है। १२५ मीटर लंबा यह पैदल पुल आसमान में तैरता सा है। पुल की चौडाई १.८ मीटर है और दों स्थानों पर साढे तीन मीटर से अधिक चौड़े तिकोनाकार प्लेटफार्म हैं जहां बैठकर सुस्ताया और आसपास का दृश्य देखा जा सकता है।

चित्रदीर्घासंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Mohamed Zahir Haji Ismail (2000). The Legends of Langkawi Archived 12 मई 2016 at the वेबैक मशीन.. Utusan Publications & Distributors.