मुख्य मेनू खोलें
दरशुराम के ऐरावतेश्वर मन्दिर में लिङ्गोद्भव की मूर्ति (१०वीँ शताब्दी)

लिंगोद्भव (मिंग + उद्भव = लिंग की उत्पत्ति) शिव का प्रतीकात्मक रूप में निरूपण है जो प्रायः दक्षिण भारत के मन्दिरों में देखने को मिलता है। लिंगोद्भव में लिंग के जन्म की कथा दर्शायी गयी होती है। लिङ्गोद्भव की कथा अनेक पुराणों में आती है।