मुख्य मेनू खोलें

वर्नर हाइजनबर्ग (जर्मन: Werner Heisenberg), जन्म: ५ दिसम्बर १९०१, देहांत: १ फ़रवरी १९७६) एक जर्मन सैद्धांतिक भौतिक विज्ञानी थे, जो क्वांटम यांत्रिकी में अपने मूलभूत योगदान के लिए जाने जाते हैं। उनके दिए गए अनिश्चितता सिद्धान्त को अब क्वांटम यांत्रिकी की एक आधारशिला माना जाता है।

वर्नर हाइजनबर्ग
जन्म वर्नर कार्ल हाइजनबर्ग
05 दिसम्बर 1901
वुर्जबर्ग, बायर्न, जर्मनी
मृत्यु 1 फ़रवरी 1976(1976-02-01) (उम्र 74)
म्यूनिख, बायर्न, पश्चिम जर्मनी
राष्ट्रीयता जर्मन
क्षेत्र सैद्धांतिक भौतिकी
संस्थान ग्यॉटिंगन विश्वविद्यालय
कोपनहेगन विश्वविद्यालय
लिपजिग विश्वविद्यालय
बर्लिन विश्वविद्यालय
म्यूनिख विश्वविद्यालय
शिक्षा म्यूनिख विश्वविद्यालय
डॉक्टरी सलाहकार अर्नाल्ड सोम्मेरफेल्ड
अन्य अकादमी सलाहकार नील्स बोर
माक्स बोर्न
डॉक्टरी शिष्य फीलिक्स ब्लाख
एडवर्ड टेलर
रुडोल्फ पीयर्ल्स
रेइनहार्ड ओहेम
फ्राइडवर्द्त विंटरबर्ग
पीटर मित्टेलस्तेद्त
सेर्बन तितेइचा
ईवान सुपेक
ईरिच बग्गे
हर्मन आर्थर जॉन
राज़ुद्दीन सिद्दिकी
हेमियो ड्लोच
हंस हेन्रीच आयलर
इडविन गोरा
बेरहर्ड कोखेल
अर्नोल्ड सैगर्ट
वंग फो-सान
कर्ल ओट
अनु उल्लेखनीय शिष्य विलियम वेर्मिल्लियन हॉस्टन
गुइडो बक
उगो फनो
प्रसिद्धि अनिश्चितता सिद्धान्त
हाइजनबर्ग सूक्ष्मदर्शी
मैट्रिक्स यांत्रिकी
क्रमेर्स-हाइजनबर्ग सूत्र
हाइजनबर्ग समूह
Isospin
आयलर-हाइजनबर्ग लाग्रांजियन
प्रभावित रॉबर्ट डोपल
कार्ल फ्रेडरिख वान वाइज्सकर
उल्लेखनीय सम्मान भौतिकी में नोबेल पुरस्कार (1932)
मैक्स प्लांक पदक (1933)
टिप्पणी
वह तंत्रिकाविज्ञानी (न्यूरोसाइंटिस्ट) मार्टिन हाइजनबर्ग के पिता और अगस्त हाइजनबर्ग के पुत्र हैं।

जीवन और वृत्तिसंपादित करें

प्रारम्भिक जीवनसंपादित करें

कैरियरसंपादित करें

व्यक्तिगत जीवनसंपादित करें

सम्मान और पुरस्कारसंपादित करें

नाभिकीय परमाणु भौतिकी में अनुसंधानसंपादित करें

प्रकाशनसंपादित करें

पुस्तकेंसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें