वाइटिस (Vitis), जिसके सदस्यों को साधारण भाषा में अंगूरबेल (grapevine) कहा जाता है, सपुष्पक द्विबीजपत्री वनस्पतियों के वाइटेसिए कुल के अंतर्गत एक जीववैज्ञानिक वंश है। इस वंश में ७९ जीववैज्ञानिक जातियाँ आती हैं जो अधिकतर पृथ्वी के उत्तरी गोलार्ध में उत्पन्न हुई हैं और लताओं के रूप में होती हैं।[1] अंगूर इसका एक महत्वपूर्ण सदस्य है और उसके फल सीधे खाये जाते हैं और उसके रस को किण्वित (फ़रमेन्ट) कर के बड़े पैमाने पर हाला (वाइन) बनाई जाती है। अंगूरबेलों के पालन-पोषण और अंगूर-उत्पादन के अध्ययन को द्राक्षाकृषि (viticulture, विटिकल्चर) कहा जाता है।[2]

वाइटिस
Vitis
Grapes03.jpg
वाइटिस विनिफ़ेरा, हाला (वाइन) के अंगूर
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: पादप
अश्रेणीत: पुष्पी पादप (Angiosperms)
अश्रेणीत: रोज़िड (Rosids)
गण: वाइटालेस (Vitales)
कुल: वाइटेसिए (Vitaceae)
वंश: वाइटिस (Vitis)
लीनियस
जातियाँ

७९ मान्य जातियाँ

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "The Plant List: Vitis". Royal Botanic Gardens, Kew. 2013. मूल से 5 सितंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 9 अप्रैल 2017.
  2. Wine & Spirits Education Trust "Wine and Spirits: Understanding Wine Quality" pgs 2-5, Second Revised Edition (2012), London, ISBN 9781905819157