किसी बड़े कार्य को सम्पादित करने के लिये निर्मित संगठन या संस्था में विभिन्न प्रकार के कार्य करने होते हैं। एक प्रकार का कार्य करने में दक्ष व्यक्तिओं को एक विभाग में रखा जाता है और दूसरे प्रकार का के कार्य में दक्ष लोगों को दूसरे विभाग में। इस प्रकार के विभाजन को विभागीकरण (Departmentalization) कहते हैं। विभागीकरण के बहुत से लाभ हैं।

विभागीकरण के प्रमुख प्रकारसंपादित करें

  • (१) कार्य आधारित विभागीकरण ( Functional departmentalization)
  • (२) उत्पाद आधारित विभागीकरण (Product departmentalization)
  • (३) ग्राहक आधारित विभागीकरण (Customer departmentalization)
  • (४) भौगोलिक विभागीकरण ( Geographic departmentalization)
  • (५) प्रक्रम आधारित विभागीकरण ( Process departmentalization)
  • (६) प्रभागीय विभागीकरण ( Divisional departmentalization)