मुख्य मेनू खोलें

जिस तरह लेनिन ने 1917 रूस में और माओ ने 1949 चीन में लम्बे संघर्ष के बाद साम्राज्यवाद के भीषण शोषण से अपने देश की जनता को मुक्त कराया, उसी तरह हो ची मिन्ह ने अपने देश वियतनाम को साम्राज्यवाद के भीषण शोषण से मुक्त कराया। इन तीनों महान नेताओं ने अपने-अपने देश में साम्यवादी (कम्यूनिस्ट) पार्टी की स्थापना करके ही उक्त महान कार्यों को सफल बनाया।