मुख्य मेनू खोलें

विलंका रामायण १५वीं शताब्दी में सारला दास द्वारा विरचित ओड़िया महाकाव्य है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें