"महाप्राण और अल्पप्राण व्यंजन": अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश नहीं है
छो (महाप्राण व्यंजन का नाम बदलकर महाप्राण और अल्पप्राण व्यंजन कर दिया गया है।: यह लेख दोनो ही के ...)
No edit summary
भाषाविज्ञान में '''महाप्राण व्यंजन''' वह [[व्यंजन]] होतें हैं जिन्हें मुख से वायु-प्रवाह के साथ बोला जाता है, जैसे की 'ख', 'घ', 'झ' और 'फ', और '''अल्पप्राण व्यंजन''' वह व्यंजन होतें हैं जिन्हें बहुत कम वायु-प्रवाह से बोला जाता है जैसे की 'क', 'ग', 'ज' और 'प'. [[देवनागरी लिपि]] में बहुत से वर्णों में महाप्राण और अल्पप्राण के जोड़े होते हैं जैसे 'क' और 'ख', 'च' और 'छ' और 'ब' और 'भ'.। कुछ भाषाएँ हैं, जैसे के [[तमिल]], जिनमें महाप्राण व्यंजन होते ही नहीं और कुछ भाषाएँ ऐसी भी हैं जिनमें महाप्राण और अल्पप्राण व्यंजन दोनों प्रयोग तो होतें हैं लेकिन बोलने वालों को दोनों एक से प्रतीत होतें हैं, जैसे की [[अंग्रेज़ी]]।
 
==इन्हें भी देखें==