"विधिसंहिता का इतिहास" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
छो (r2.7.1) (robot Adding: nn:Kodifisering, no:Kodifisering)
संहिता का शाब्दिक अर्थ है संग्रह। अत: विधिनियमों का लिपिबद्ध रूप ही, सामान्य अर्थों में, '''विधिसंहिता''' कहलाता है। विधिनियमों के विकासक्रम में यह अत्यंत उच्च स्तर माना गया है क्योंकि विधि का लिपिबद्ध संग्रह तभी संभव है जब उन नियमों का रूप स्थिर हो चुका हो और वे सर्वमान्य हो चुके हों। सामाजिक विकासक्रम में सामाजिक संबंधों का नियमन क्रमश: दैवी आदेश, लोकरीति (जिसे अंग्रेजी में जुडीशल प्रीसीडेट कहते हैं) द्वारा होना माना गया है। अत: स्पष्ट है कि विधिनियमों का संहिताकरण होने के पूर्व यह तीनों स्तर पार किए जा चुके होंगे।
 
 
==विधिनियमों को लिपिबद्ध करने की आवश्यकता==
विधिनियमों को लिपिबद्ध करने की आवश्यकता कदाचित् तब पड़ी होगी जब एक व्यापक क्षेत्र की स्थानीय लोकरीतियों में एकरूपता लाना जरूरी हो गया होगा। सब को कर्तव्याकर्तव्य का ज्ञान उपलब्ध हो सके, यह इच्छा भी संहिताकरण की प्रेरक रही होगी। संहिताकरण का उद्देश्य रूढ़ि के स्थान पर लिपिबद्ध विधि नियम को ही लोकव्यवहार का आधार बनाना होता है। किंतु प्रारंभिक विधिसंहिताएँ जिस रूप में हमें उपलब्ध हैं उनसे यह स्पष्ट है कि वे संहिताएँ तत्कालीन लोकरीतियों के ही संग्रह हैं। और यह भी कि विधिनियमों को लिपिबद्ध करने के बाद भी लोकरीतियों से पूर्ण मुक्ति उपलब्ध नहीं हो सकी, क्योंकि उन संगृहीत विधिनियमों को व्यवहार में लोकरीति के ही अनुसार लाया जा सकता है।
 
 
==विधिसंहिताओं का इतिहास==
 
(3) विधि संग्रह में भाषा की सरलता के साथ साथ स्पष्टता का भी ध्यान रखा जाता है ताकि नियमों का रूप विस्तारदोष से मुक्त संक्षिप्त होते हुए भी बहुअर्थ दोष उसमें न आ सके।
 
 
आधुनिक अर्थों में विधिसंहिता के विकास और राष्ट्रीय भावना का अन्योन्याश्रित संबंध रहा है : उदाहरण के लिए फ्रांस में ''कोड नेपोलियन'' की रचना के पीछे [[फ्रांसीसी क्रांति]] से उत्पन्न राष्ट्रीय भावना प्रेरक शक्ति थी। जर्मन कोड लगभग अपने पूर्ण रूप में यद्यपि विदेशी रोमन विधि पर ही आधारित था, तथापि सैविनी ने वोल्क-जीस्ट (जनचेतना) का ही संबल लिया था। दूसरी ओर विधिसंहिता की रचना के बाद उस समाज में राष्ट्रीय भावना के विकसित एवं व्याप्त होने में वही विधिसंहिता (सभी समान रूप से एक ही विधि के संरक्षण में होने के कारण) सहायक होती है जैसा इटली के इतिहास से सिद्ध है।
 
[[श्रेणी:विधि]]
[[श्रेणी:उत्तम लेख]]
 
[[cs:Kodifikace (právo)]]
5,01,128

सम्पादन