"सुबिमल बसाक" के अवतरणों में अंतर

35 बैट्स् जोड़े गए ,  9 वर्ष पहले
*आमार तोमार तार कथा ( २००१ ) यशपाल। (अनुवाद के लिये साहित्य अकादेमि पुरस्कृत )
*यात्रिक ( २००२) नील पद्मनाभन रचित ''पल्लीकोन्डपुरम''।
==साक्षातकार==
 
[[चित्र:Example.jpg]]
118

सम्पादन