"भारत में सूचना प्रौद्योगिकी" के अवतरणों में अंतर

No edit summary
 
भौगोलिक सीमाओं को तोड़ते हुए अलग-अलग देशों में उत्पाद उत्पाद इकाइयाँ बनाना, हर देश में उपलब्ध श्रेष्ठ संसाधन का उपयोग करना, विभिन्न देशों से काम करते हुए पूरे 24 घंटे अपने ग्राहक के लिए उपलब्ध रहना और ऐसे डेटा सेंटर बनाना जो कहीं से भी इस्तेमाल किए जा सकें, ये कुछ ऐसे प्रयोग थे जो हमारे लिए काफी कारगर साबित हुए। अब सारी दुनिया इन्हें अपना रही है।
 
==भारत में सूचना प्रौद्योगिकी के महत्वपूर्ण पहल==
* रेलवे टिकट एवं आरक्षण का कम्प्यूटरीकरण
* बैंकों का कम्प्यूतारीकर्ण एवं एटीएम कई सुविधा
* इंटरनेट से रेल टिकट, हवाई टिकट का आरक्षण
* इंटरनेट से एफईआर
* न्यायालयों के निर्णय आनला.इन उपलब्ध कराये जा रहे हैं.
* किसानों के भूमि रिकार्दा का कम्प्यूटरीकरण
* इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए आनलाइन आवेदन एवं आनलाइन काउंसिलिंग
* आनलाइन परीक्षाएं
* कई विभागों के टेंडर आनलाइन भरे जा रहे हैं.
* [[पासपोर्ट]], गाडी चलाने के लाइसेंस आदि भी आनलाइन भरे जा रहे हैं.
* कई विभागों के 'कानाफिदेंसियल रिपोर्ट' आनलाइन भरे जा रहे हैं.
* शिकायेतें आनलाइन कई जा सकतीं है.
* सभी विभागों कई बहुत सारी जानकारी आनलाइन उपलब्ध है. [[सूचना का अधिकार' के तहत भी बहुत सी जानकारी आनाइन दी जा रही है.
 
==आई टी कंपनियाँ==