"मंत्री": अवतरणों में अंतर

729 बाइट्स जोड़े गए ,  11 वर्ष पहले
No edit summary
 
अर्थस्योत्पादकं चैव विदध्यान्मंत्रिणं नृप: //
 
(जो उसी देश में उत्पन्न, जिसका कुल और आचार शुद्ध हो, जिसकी निष्ठा जाँची-परखी हो, मंत्र (कूटनीति) का ज्ञाता हो, व्यसनी न हो, व्यभिचार से दूर रहने वाला हो, शासन के विभिन्न पहलुओं का अच्छा ज्ञाता हो, अच्छे परिवार से हो, प्रसिद्ध हो, विद्वान हो, धन का सृजन करने वाला हो, को राजा मंत्री बनाये।)
 
[[श्रेणी:राजनीति]]