"अंग्रेजी हटाओ आंदोलन" के अवतरणों में अंतर

Added {{स्रोतहीन}} tag to article
छो (अंग्रेजी हटाओं आंदोलन का नाम बदलकर अंग्रेजी हटाओ आंदोलन कर दिया गया है।)
(Added {{स्रोतहीन}} tag to article)
{{स्रोतहीन|date=सितंबर 2011}}
स्वतंत्र [[भारत]] में साठ के दशक में 'अंग्रेजी हटाओं-हिन्दी लाओ' के आंदोलन का सूत्रपात [[राममनोहर लोहिया]] ने किया था। इस आन्दोलन की गणना अब तक के कुछ इने गिने आंदोलनों में की जा सकती है। समाजवादी राजनीति के पुरोधा डॉ. राममनोहर लोहिया के भाषा संबंधी समस्त चिंतन और आंदोलन का लक्ष्य भारतीय सार्वजनिक जीवन से [[अंगरेजी]] के वर्चस्व को हटाना था। लोहिया को अंगरेजी भाषा मात्र से कोई आपत्ति नहीं थी। अंगरेजी के विपुल साहित्य के भी वह विरोधी नहीं थे, बल्कि विचार और शोध की भाषा के रूप में वह अंगरेजी का सम्मान करते थे।
 
24,319

सम्पादन