"अल-आराफ़" के अवतरणों में अंतर

39 बैट्स् जोड़े गए ,  9 वर्ष पहले
छो
Tag {{unreferenced}}
छो (r2.7.1) (robot Modifying: kk:Әл-Араф)
छो (Tag {{unreferenced}})
{{unreferenced}}
 
क़ुरान का अध्याय ([[सूरा]]) ।<br />
-QURAN HINDI TRANSLATION-<br />
और तुम लोग जो रास्तों पर (बैठकर) जो ख़़ुदा पर ईमान लाया है उसको डराते हो और ख़़ुदा की राह से रोकते हो और उसकी राह में (ख़्वाहमाख़्वाह) कज़ी ढूँढ निकालते हो अब न बैठा करो और उसको तो याद करो कि जब तुम (्युमार में) कम थे तो ख़ुदा ही ने तुमको बढ़ाया, और ज़रा ग़ौर तो करो कि (आखि़र) फसाद फैलाने वालों का अन्जाम क्या हुआ (86)
और जिन बातों का मै पैग़ाम लेकर आया हूँ अगर तुममें से एक गिरोह ने उनको मान लिया और एक गिरोह ने नहीं माना तो (कुछ परवाह नहीं) तो तुम सब्र से बैठे (देखते) रहो यहाँ तक कि ख़ुदा (खुद) हमारे दरम्यिान फैसला कर दे, वह तो सबसे बेहतर फैसला करने वाला है (87)
 
 
तो उनकी क़ौम में से जिन लोगों को (अपनी हषमत(दुनिया पर) बड़ा घमण्ड था कहने लगे कि ऐ ्युएब हम तुम्हारे साथ इमान लाने वालों को अपनी बस्ती से निकाल बाहर कर देगें मगर जबकि तुम भी हमारे उसी मज़हब मिल्लत में लौट कर आ जाओ (88)
{{सूरा}}
 
[[श्रेणी:सुरः|अल-आराफ़]]
 
[[श्रेणी:सुरः]]
 
[[ace:Surat Al-A'raf]]
1,94,421

सम्पादन