"मुक्तक" के अवतरणों में अंतर

3 बैट्स् जोड़े गए ,  12 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(नया पृष्ठ: '''मुक्तक''' काव्य या कविता का एक प्रकार है जिसमें पहली दूसरी और च...)
 
 
 
हुतबहुत टूटा बहुत बिखरा थपेडे सह नही पाया
 
हवाऒं के इशारों पर मगर मै बह नही पाया
8,287

सम्पादन