"प्रवेशद्वार:झारखंड/चयनित जीवनी" के अवतरणों में अंतर

clean up, replaced: Birsa2.jpg → Birsa Munda, photograph in Roy (1912-72).JPG using AWB
(clean up, replaced: Birsa2.jpg → Birsa Munda, photograph in Roy (1912-72).JPG using AWB)
 
[[Image:Birsa2Birsa Munda, photograph in Roy (1912-72).jpgJPG|thumb|right|120px]] सुगना मुंडा और करमी हातू के पुत्र '''बिरसा मुंडा''' का जन्म 15 नवंबर 1875 को [[झारखंड|झारखंड प्रदेश]] में[[राँची]] के[[उलीहातू]] गाँव में हुआ था। साल्गा गाँव में प्रांभिक पढाई के बाद वे [[चाईबासा]] इंग्लिश मिडिल स्कूल में पढने आये। इनका मन हमेशा अपने समाज की [[ब्रिटिश]] शासकों द्वारा की गयी बुरी दशा पर सोचता रहता था। उन्होंने [[मुंडा]] लोगों को अंग्रेजों से मुक्ति पाने के लिये अपना नेतृत्व प्रदान किया। 1894 में [[मानसून]] के [[छोटानागपुर]] में असफल होने के कारण भयंकर [[अकाल]] और [[महामारी]] फैली हुई थी। बिरसा ने पूरे मनोयोग से अपने लोगों की सेवा की। {{अधिक|बिरसा मुंडा}}
75

सम्पादन