"मशीनी भाषा" के अवतरणों में अंतर

945 बैट्स् जोड़े गए ,  12 वर्ष पहले
विकिफाई
(नया पृष्ठ: मशीनी भाषा वह एकमात्र कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा है जो कि कम्प...)
 
(विकिफाई)
'''मशीनी भाषा''' वह एकमात्र कम्प्यूटर[[कंप्यूटर]] [[प्रोग्रामिंग]] [[प्रोग्रामिंग भाषा|भाषा]] है जो कि कम्प्यूटरकंप्यूटर द्वारा सीधे-सीधे समझी जाती है, इसे किसी अनुवादक प्रोग्राम का प्रयोग नही करना होता है। इसे कम्प्यूटरकंप्यूटर का मशीनी संकेत भी कहा जाता है। मशीनी संकेत कम्प्यूटरकंप्यूटर की आधारभुत भाषा है, यह केवल 0 और 1 दो अंको के प्रयोग से निर्मित श्रृंखला से लिखी जाती है। कम्प्यूटरकंप्यूटर का परिपथ इस प्रकार तैयार किया जाता है कि यह मशीनी भाषा को तुरन्त पहचान लेता है और इसे विध्दुत संकेतो मे परिवर्तित कर लेता है। विध्दुत संकेतो की दो अवस्थाए होती है-हाई और लो अथवा Anticlock wise & clock wise।1 का अर्थ है Pulse अथवा High तथा 0 का अर्थ है No Pulse या low ।<br />
मशीनी भाषा मे प्रत्येक निर्देश के दो भाग होते है-पहला क्रिया संकेत (Operation code) अथवा Opcode और दूसरा स्थिति संकेत Location code अथवा Operand । क्रिया संकेत कम्प्यूटरकंप्यूटर को यह बताता जाता है कि क्या करना है और स्थिति संकेत यह बताता है कि आकडे कहां से प्राप्त करना है, कहां संग्रहीत करना है अथवा अन्य कोइ निर्देश जिसका की दक्षता से पालन किया जाना है । संकेतो को 0 और 1 की श्रृंखला मे ही व्यक्त किया जा सकता है।<br />
 
==''' मशीनी भाषा की विशेषताए''' ==
 
मशीनी भाषा मे लिखा गया प्रोग्राम कम्प्यूटरकंप्यूटर द्वारा अत्यंत शीघ्रता से कार्यांवित हो जाता है। इसका मुख्य कारण यह है कि मशीनी भाषा मे दिए गए निर्देश कम्प्यूटरकंप्यूटर सीधे सीधे बिना किसी अनुवादक के समझ लेता है और अनुपालन कर देता है।<br />
 
== '''मशीनी भाषा की परिसीमाएं''' ==
(१)# मशीनी भाषा कम्प्यूटरकंप्यूटर के ALU (Arithmatic Logic Unit) एवं Control Unit के डिजाइन अथवा रचना, आकार एवं Memory Unit के word की लम्बाई द्वारा निर्धारित होती है। एक बार किसी ALU के लिये मशीनी भाषा मे तैयार किये गए प्रोग्राम को किसी अन्य ALU पर चलाने के लिये उसे पुन: उस ALU के अनुसार मशीनी भाषा का अध्ययन करने और प्रोग्राम के पुन: लेखन की आवश्यकता होती है।<br />
(२)# मशीनी भाषा मे प्रोग्राम तैयार करना एक दुरूह कार्य है। इस भाषा मे प्रोग्राम लिखने के लिये प्रोग्रामर को मशीनी निर्देशो या तो अनेकों संकेत संख्या के रूप मे याद करना पडता था अथवा एक निर्देशिका के संपर्क मे निरंतर रहना पडता था। साथ ही प्रोग्रामर को कम्प्यूटरकंप्यूटर के Hardware Structure के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी भी होनी चाहिये थी।<br />
(३)# विभिन्न निर्देशो हेतु चूंकि मशीनी भाषा मे मात्र दो अंको 0 और 1 की श्रृंखला का प्रयोग होता है। अत: इसमे त्रुटि होने की सम्भावना अत्यधिक है। और प्रोग्राम मे त्रुटि होने पर त्रुटि को तलाश कर पाना तो भुस मे सुइ तलाशने के बराबर है।<br />
संक्षेप मे हम यह कह सकते है कि मशीनी भाषा मे प्रोग्राम लिखना एक कठिन और अत्यधिक समय लगाने वाला कार्य है। इसीलिये वर्तमान समय मे मशीनी भाषा मे प्रोग्राम लिखने का कार्य नगण्य है।<br />
 
 
[[bn:যান্ত্রিক ভাষা]]
[[br:Areg ijinenn]]
[[bg:Машинен език]]
[[ca:Llenguatge de màquina]]
[[cs:Strojový kód]]
[[da:Maskinkode]]
[[de:Maschinensprache]]
[[el:Γλώσσα μηχανής]]
[[en:machine code]]
[[es:Lenguaje de máquina]]
[[et:Masinkood]]
[[fa:زبان ماشین]]
[[fr:Langage machine]]
[[gl:Código máquina]]
[[ko:기계어]]
[[hr:Strojni jezik]]
[[id:Bahasa mesin]]
[[it:Linguaggio macchina]]
[[he:שפת מכונה]]
[[lt:Mašininis kodas (programavimas)]]
[[hu:Gépi kód]]
[[ml:യന്ത്രതല ഭാഷ]]
[[nl:Machinetaal]]
[[ja:機械語]]
[[no:Maskinkode]]
[[pl:Język maszynowy]]
[[pt:Código de máquina]]
[[ru:Машинный код]]
[[simple:Machine code]]
[[sk:Strojový kód]]
[[sl:Strojna koda]]
[[fi:Konekieli]]
[[sv:Maskinkod]]
[[vi:Ngôn ngữ máy]]
[[th:ภาษาเครื่อง]]
[[tr:Makine dili]]
[[uk:Машинний код]]
[[ur:آلاتی زبان]]
[[zh:机器语言]]
970

सम्पादन