"राजसमंद": अवतरणों में अंतर

3 बाइट्स हटाए गए ,  10 वर्ष पहले
छो
सम्पादन सारांश नहीं है
(नया पृष्ठ: ( 66 किलोमीटर उत्तर पूर्व) राजसमंद झील कंकरोली तथा राजसमंद शहरों के…)
 
छोNo edit summary
( 66 किलोमीटर उत्तर पूर्व) राजसमंद झील कंकरोली तथा राजसमंद शहरों के बीच स्थित है। इस झील की स्थाकपना 17वीं शताब्दीय में मेवाड़ के महाराणा राजसिंह ने की थी। इस झील का निर्माण गोमती, केलवा तथा ताली नदियों पर डैम बनाकर किया गया है। कंकरोली में झील के तट पर द्वारकाधीश कृष्णा का मंदिर है। यहां जाने के लिए उदयपुर से सीधी बस सेवा है।
 
==राजसमंदजयसमंद झील==
 
(48 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व) यह भारत का सबसे बड़ा कृत्रिम झील है। यह झील 88 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। महाराणा जयसिंह ने इस झील का निर्माण 17वीं शताब्दी में गोमती नदी पर डैम बनाकर किया था। इसके तटबंध पर मार्बल का एक स्माीरक तथा भगवान शिव का एक मंदिर है। इस झील के दूसरी तरफ राजपरिवार के लोगों के गर्मियों में रहने के लिए महल बने हुए हैं। इस झील में सात द्वीप हैं। यह झील के चारों तरफ पहाडियां हैं। पहाडियों पर दो महल बने हुए हैं। इनमें से एक हवा महल तथा दूसरा रुठी रानी का महल है। यहां एक जयसमंद वन्याजीव अभ्याेरण भी है।
127

सम्पादन