"भित्तिचित्र कला" के अवतरणों में अंतर

258 बैट्स् जोड़े गए ,  8 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
भितिचित्र कला ज्यादातर छत्तीसगढ़ के जिला सरगुजा, तहसील अंबिकापुर के अंतर्गत आने वाले गांवों जैसे पुहपुटरा,लखनपुर, केनापारा आदि में लोक एवं आदिवासी जातियों द्वारा अभ्यास की जाने वाली ऐसी लोक कला है जो गांव की औरतों के द्वारा वहां की कच्ची मिट्टी से बनी झोपड़ियों की दीवारों पर गोबर, चाक मिट्टी, कुँओं से निकली खड़िया मिट्टी, फेविकोल, मिट्टी के रंगों एवं नारियल की रस्सी के द्वारा बनाई जाती है।
59

सम्पादन