"विकिपीडिया:चौपाल" के अवतरणों में अंतर

6,348 बैट्स् जोड़े गए ,  9 वर्ष पहले
* उस मंच पर शायद ही कोई नया सदस्य आना पसंद करेगा जहाँ उसे उसके पहले दिन ही "शिखंडी" और "महारानी के सच्चे सेवक" जैसी अपमानजनक कटाक्ष का सामना करना पड़े।
बिल जी। क्षमा माँगने की इस भाषा के लिए भी आपको सावधान कर रहा हूँ। इसे बदलिए जिसमें एक साथ तीन विकि प्रबंधों पर अनावश्यक टिप्पणी की गई है। मयूर से निवेदन है कि यह स्पष्ट करें कि उन्होंने कैसे निश्चय किया कि आलोचक और जगदिश व्योम एक ही संगणक से कार्य करने वाले दो मित्र नहीं हैं। संतोषजनक उत्तर न मिलने की स्थिति में मैं अनावरुद्ध करने के विकल्प का प्रयोग करुँगा। <small><span style="border:1px solid magenta;padding:1px;">[[User:aniruddhajnu|<b>अनिरुद्ध</b>]][[User_talk:अनिरुद्ध|<font style="color:purple;background:lightgreen;"> &nbsp;वार्ता&nbsp;</font>]] </span></small> 05:22, 22 जुलाई 2012 (UTC)
:: अनिरुद्ध जी, चेक युजर टेस्ट यह सिद्ध करता है कि यह समस्त खाते Dr.jagdish, आलोचक, Froklin, Sugandha, William bal klinton एक ही व्यक्ति के है इस टेस्ट के अन्तर्गत यह पाया गया है कि
#पाँचों खाते एक ही कम्पयूटर, ब्राउजर और आई पी से थे।
#इसके साथ यह समस्त खाते एक साथ सक्रिय हुए थे।
#सभी खातो का डक टेस्ट(DUCKTEST) समान पाया गया अर्थात सभी पाँचों खातों के मालिक के लेखन में हिन्दी लेखन में बहुत समानता मिली है।
#[http://toolserver.org/~pietrodn/intersectContribs.php?wikiDb=hiwiki_p&firstUser=Dr.jagdish&secondUser=%E0%A4%86%E0%A4%B2%E0%A5%8B%E0%A4%9A%E0%A4%95&sort=0 समान लेखन रुचि]
:किसी भी विकि में केवल चेक युजर के परिणाम के अधार पर ही समस्त आरोपी सदस्यों को अवरोधित किया जाता है और मूल अकाउन्ट को एक अन्तिम चेतावनी अवश्य दे दी जाती है जो मैनें दे दी है। आलोचक एवं जगदीश व्योम लगभग हमेशा एक साथ ही सक्रिय रहे है और दोनो की लेखन रुचियाँ भी समान थी। चेक युजर के बाद भी यदि इतनी समानता मिले तो सदस्य के समस्त छदम खातों को अवरोधित कर दिया जाता है। अंग्रेजी विकि पर तो केवल चेक युजर के परिणाम के आधार पर सदस्यों को अवरोधित कर दिया जाता है पर यहाँ मैनें, हुंजजाल, बिल ने काफि शोध कर कुछ और समानताएं भी पायी है। आलोचक के बारे में हुंजजाल भी अपनी प्रतिक्रिया दे चुके कि <poem>आलोचक महोदय को मैं नहीं जानता लेकिन [http://hi.wikipedia.org/w/index.php?title=%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%95%E0%A4%BF%E0%A4%AA%E0%A5%80%E0%A4%A1%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE:%E0%A4%9A%E0%A5%8C%E0%A4%AA%E0%A4%BE%E0%A4%B2&diff=prev&oldid=1856391 ऐसे उदाहरण] आपको ज़रूर मिलेंगे जिनमें उन्होने आकर किसी चर्चा में एक तरफ़ का पलड़ा अधिक भारी दिखाने की चेष्टा की है। इन्हीं कारणों से छिद्म खाते वर्जित किये जाते हैं। मैं अंतर्राष्ट्रीय अंकों के पक्ष में था लेकिन जब मैंने देखा कि बहुत से सदस्य नागरी अंक रखना चाहते हैं तो उनकी संवेदनाओं को ध्यान में रखकर मैंने एक बार फिर नागरी अंकों को हमेशा प्रयोग में लाना शुरू कर दिया और अब तक लाता हूँ। यदि कोई उसमे छिद्म खाते बनाकर दिखाता कि ३० लोग अंतर्राष्ट्रीय अंकों के पक्ष में हैं और ५ उसके विरुद्ध हैं तो इस से विकी सहमती प्रक्रिया प्रदूषित होती है। ध्यान दें कि यह उदाहरण जो मुझे मिला उसमें 'आलोचक' उन्ही 'डा० व्योम' की बढ़ाई कर रहें हैं जो जांच के अनुसार आलोचक ही हैं (एक ही आई पी से आते हैं, एक ही मशीन का प्रयोग करते हैं और उनके उस मशीन के प्रयोग के pattern से लगता है कि एक ही व्यक्ति है)। इन चीज़ों में देखा गया है कि व्यक्ति यह एक बार न कर के बार-बार करता है। यही pattern यहाँ भी दिखता है - चिह्न हैं कि इन्होनें एक नहीं ५-५ खाते बनाए हुए हैं। अगर इनको इस दुरूपयोग के बाद भी क्षमा है तो दूसरों की क्या ग़लती है? उन्हें भी छूट मिलनी चाहिए। इस से भी एक नए प्रकार का संतुलन बनेगा, चाहे वह एक 'जंगली संतुलन' ही हो।</poem> इतना सब कुछ होने पर भी यदि हम यह नहीं रोकेंगे तो हिन्दी विकि का माहौल अत्यंत खराब हो सकता है।--[[User:Mayur|<font face="Rage Italic" size="4.5" style="color:#000000;color:#FF4500"><i>Ma</i></font><font face="Rage Italic" size="5" style="color:#000000;color:#008000"><i>yur</i></font>]] <sup><span style="font-family:Italic;color:black">[[user_talk:Mayur|(talk]]•[[special:EmailUser/mayur|Email)]]</span></sup> 12:12, 22 जुलाई 2012 (UTC)
 
==[[राजेश खन्ना]]==
5,01,128

सम्पादन