"चिंगहई-तिब्बत रेलमार्ग" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
[[चित्र:Lahsa_station.jpg|thumb|right|200px|[[ल्हासा]], तिब्बत का रेलवे स्टेशन]]
'''चिंगहई-तिब्बत रेलमार्ग''' ({{भाषा-चीनी|青藏铁路}} {{भाषा-तिब्बती|མཚོ་བོད་ལྕགས་ལམ།}}) [[चीनी जनवादी गणराज्य]] में एक रेलमार्ग है जो [[चिंगहई]] प्रान्त में स्थित [[शिनिंग]] को [[तिब्बत]] की राजधानी [[ल्हासा]] से जोड़ता है। यह रेलमार्ग तिब्बत को शेष चीन से जिड़ने वाला पहला रेलमार्ग है, क्योंकि तिब्बत के बहुत ऊँचाई पर स्थित होने के कारण यहाँ किसी भी रेलमार्ग का निर्माण नहीं हो सका था। [[बीजिंग]], [[चेंग्दू]], [[चोंग्किंग]], [[शिनिंग]], [[शंघाई]] और [[लांझोउ]] से ल्हासा के लिए रेलगाड़ियों की सेवाएँ उपलब्ध हैं।
 
इस रेलमार्ग की कुल लम्बाई १,९५६ किमी है। शिनिंग से [[गोलमुड]] तक के ८१५ किमी लम्बे रेलमार्ग का निर्माण १९८४ तक पूरा हो चुका था। शेष १,१४२ किमी लम्बे भाग, जो गोलमुड से ल्हासा तक का है, का उद्घाटन १ जुलाई २००६ को पार्टी आम सचिव [[हू जिन्ताओ]] द्वारा किया गया था।