"करबला" के अवतरणों में अंतर

7 बैट्स् नीकाले गए ,  8 वर्ष पहले
छो
Robot: Interwiki standardization; अंगराग परिवर्तन
छो (Robot: Interwiki standardization; अंगराग परिवर्तन)
'''करबला''' [[ईराक]] का एक प्रमुख शहर है । यहा पर इमाम [[हुसैन]] ने अपने नाना [[मुहम्मद]] स्० के सिधान्तो की रक्षा के लिए बहुत बड़ा बलिदान दिया था । इस स्थान पर आपको और आपके लगभग पूरे परिवार और अनुयायियों को यजिद नामक व्यक्ति के आदेश पर सन् 680 (हिजरी 58) में शहीद किया गया था जो उस समय शासन करता था और [[इस्लाम धर्म]] में अपने अनुसार बुराईयाँ जेसे शराबखोरि,अय्याशी, वगरह लाना चाह्ता था।
 
यह क्षेत्र सीरियाई मरुस्थल के कोने में स्थित है । करबला [[शिया ]] स्मुदाय में [[मक्का]] के बाद दूसरी सबसे प्रमुख जगह है । कई मुसलमान अपने मक्का की यात्रा के बाद करबला भी जाते हैं । इस स्थान पर इमाम हुसैन का मक़बरा भी है जहाँ सुनहले रंग की गुम्बद बहुत आकर्षक है । इसे 1801 में कुछ अधर्मी लोगो ने नष्ट भी किया था पर [[फ़ारस]] (ईरान) के लोगों द्वारा यह फ़िर से बनाया गया । <ref>{{cite web| title=कर्बला |url = http://www.encyclopedia.com/doc/1E1-Karbala.html }}</ref>
 
इमाम हुसैन (हुसैन बिन अली) के इस बलिदान को शिया मुस्लिम मुहर्रम के रूप में आज भी याद करते हैं । <ref>{{cite web|title=कर्बला का इतिहास|accessdate=17 नवंबर, 2008|language=अंग्रेज़ी|url= http://www.islamicinformationcentre.co.uk/karbala.htm}}</ref>
==संदर्भ ==
<references/>
इसे सुन्नि और शिय दोनो मन्अते हय लेकिन दोनो के मनने के अन्द।ज अल्ग अल्ग है जैसे कि शिय। लोग इस्मे कफि खून खर।ब। करते है जब्कि सुन्नि लोग इसे शन्ति के स्।थ मन।ते है। सुन्नि
 
[[श्रेणी:इस्लाम]]
 
इसे सुन्नि और शिय दोनो मन्अते हय लेकिन दोनो के मनने के अन्द।ज अल्ग अल्ग है जैसे कि शिय। लोग इस्मे कफि खून खर।ब। करते है जब्कि सुन्नि लोग इसे शन्ति के स्।थ मन।ते है। सुन्नि
 
[[ar:كربلاء]]
74,334

सम्पादन