"माता" के अवतरणों में अंतर

68 बैट्स् नीकाले गए ,  7 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
[[इंसान|इंसानों]] के परिपेक्ष में माता अपने [[गर्भ]] में बच्चे को धारण करती है और [[भ्रूण]] के विकास के बाद उसे [[जन्म]] देती है।
 
maa koi prani nahi hai jo dekha jaye ye to sarasar apman hai maa ka== देखें ==
* [[परिवार]]
 
96

सम्पादन