"तड़ित" के अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  7 वर्ष पहले
छो
Rillke द्वारा Global_Lightning_Frequency.jpg की जगह File:Global_Lightning_Frequency.png लगाया जा रहा है (कारण: Tech-maintenance: Adjusting file extension to MIME format:j...
छो (r2.7.2+) (Robot: Adding my:လျှပ်ပြက်ခြင်း)
छो (Rillke द्वारा Global_Lightning_Frequency.jpg की जगह File:Global_Lightning_Frequency.png लगाया जा रहा है (कारण: Tech-maintenance: Adjusting file extension to MIME format:j...)
 
== परिचय एवं इतिहास ==
[[चित्र:Global Lightning FrequencyGlobal_Lightning_Frequency.jpgpng|right|thumb|400px|विश्व के विभिन्न भागों में तड़ित की बारम्बारता]]
संभवत: अन्य किसी भी प्राकृतिक घटना ने इतना भय, रोमांच और आश्चर्य नहीं उत्पन्न किया होगा, और न आज भी करती होगी जितना तड़ितपात और [[बादल|बादलों]] की कड़क से उत्पन्न होता है। अनादि काल से संसार के प्राय: सभी देशों में यह विश्वास प्रचलित था कि तड़ित ईश्वर का दंड है, जिसका प्रहार वह उस प्राणी अथवा वस्तु पर करता है जिसके ऊपर वह कुपित हो जाता है। ग्रीक और रोमन देशवासी इसे भगवान जुपिटर का प्रहारदंड मान ते थे। आज भी बहुत से लोग ऐसा ही समझते हैं और तड़ित के वैज्ञानिक कारण को समझने की चेष्टा करने के बदले चिरपोषित अंधविश्वास पर ही अधिक भरोसा करते हैं। प्राचीन धर्मग्रथों में वर्णित अनेक कथाएँ उनके इस अंधविश्वास को बल देती हैं।