"शिलारस": अवतरणों में अंतर

2 बाइट्स हटाए गए ,  9 वर्ष पहले
छो
Bot: अंगराग परिवर्तन
छो (r2.7.2+) (Robot: Adding si:ඛනිජ තෙල්)
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
दरअसल अपरिष्कृत तेल को अलग-अलग तापमान पर गर्म करके वाष्प एकत्रित करके तथा उसे दोबारा संघनित करके उदप्रांगार की अलग-अलग चेन निकाल ली जाती हैं। तेल शोधक कारखाना (ऑयल रिफाइनरी) में शोधन का यह सबसे सामान्य और पुराना तरीका है। उबलते तापमान का उपयोग करने वाली इस विधि को प्रभाजी आसवन कहते हैं। आसवन का एक तरीका यह भी होता है कि उदप्रांगार की एक लंबी चेन को जैसे का तैसा निकाल लेने के बजाए उसे छोटी-छोटी चेन्स में तोड़कर निकाल लिया जाता है। इस प्रक्रिया को रासायनिक प्रसंस्करण कहते हैं। तो बच्चे अब आप समझ गए होंगे कि पेट्रोल और कैरोसिन के अलावा दूसरे ईंधन कैसे बनते हैं। इस सारी प्रक्रिया में तेल शोधक कारखाना की अहम भूमिका हो
 
== शिलारस का विश्व वितरण ==
* अमेरिका
* [[ईरान]]
* [[कोयला]]
* [[प्रक्रतिक गैस]]
 
 
[[श्रेणी:खनिज ईंधन]]
74,334

सम्पादन