"ग्वालियर ज़िला" के अवतरणों में अंतर

14 बैट्स् जोड़े गए ,  7 वर्ष पहले
छो
Bot: अंगराग परिवर्तन
छो (r2.7.3) (Robot: Adding or:ଗ୍ବାଲିୟର ଜିଲ୍ଲା)
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
 
 
== नामाकरण ==
यह जिले का नाम इस जिले पर अवस्थित एक प्रसिद्ध किला के नाम के अपभ्रंश होकर नामाकरण हुए स्थान के नाम पे रखा गया था। इस प्रसिद्ध किला का नाम किला अवस्थित पहाडी के नाम से लिया गया था। इस समतल शिखरयुक्त पहाड को गोपाचल, गोपगिरि, गोप पर्वत या गोपाद्रि कहा जाता था। <ref name=Gwalior/> यह नाम अपभ्रंश होकर ग्वालियर शब्द का निर्माण हुआ है।
 
== भूगोल ==
यह जिल्ला उत्तर में मुरैना जिले से पश्चिचम में शिवपुरी, पूर्व में भिंड तथा दक्षिण में दतिया जिले से धिरा हुआ हैं। <ref name=Gwalior/> ग्वालियर जिले में तीन तहसील हैं-ग्वालियर(गिर्द), डबरा तथा भितरवार। इस जिमा में चार विकास-खण्ड है घांटीगांव(बरई), मुरार, डबरा तथा भितरवार। इस जिला में तीन नगर पंचायत है बिलौआ,पिछोर एवं आंतरी। इस जिला में दो नगरपालिका डबरा व भितरवार एंव ग्वालियर नगरनिगम अवस्थित है। इस जिले में कुल 300 ग्राम पंचायत, 660 ग्राम है जिनमें से 598 आबाद ग्राम है व 62 वीरान है ।<ref name=Gwalior/>
 
|}
 
== अर्थतन्त्र ==
=== स्थानीय कच्चा पदार्थ ===
ग्वालियर क्षेत्र में विशेषतः बलुआ ,पत्थर ,मिट्टी,गेरू,कांच बनाने की बालु ,कपड़ा,चमड़ा आदि ऊपलब्ध है । <ref name=Gwalior/>
 
 
== जनसंख्या ==
सन 2001 की जनगणना के अनुसार ग्वालियर जिले की जनसंख्या 1629881 है।<ref name=Gwalior/>
 
== प्राचीन मंदिर ==
ग्वालियर के सैंकड़ों प्राचीन मंदिरों मैं से , स्टेशन पुल के नीचे बना हुआ [http://www.manshapuran.com/ मंशा पूरण हनुमान] जी का मंदिर भी एक है | यह मंदिर लगभग ४०० साल पुराना है |
 
 
== टीका ==
{{reflist|}}
 
74,334

सम्पादन