"जलसेना विद्रोह (मुम्बई)" के अवतरणों में अंतर

छो
Bot: अंगराग परिवर्तन
छो (Nav Tmplt)
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
[[भारत]] की आजादी के ठीक पहले [[मुम्बई]] में रायल इण्डियन नेवी के सैनिकों द्वारा पहले एक पूर्ण [[हड़ताल]] की गयी और उसके बाद खुला विद्रोह भी हुआ। इसे ही '''जलसेना विद्रोह''' या '''मुम्बई विद्रोह''' (बॉम्बे म्युटिनी) के नाम से जाना जाता है। यह विद्रोह १८ फरवरी सन् १९४६ को हुआ जो कि जलयान में और समुद्र से बाहर स्थित जलसेना के ठिकानों पर भी हुआ। यद्यपि यह मुम्बई में आरम्भ हुआ किन्तु [[कराची]] से लेकर [[कोलकाता]] तक इसे पूरे ब्रिटिश भारत में इसे भरपूर समर्थन मिला। कुल मिलाकर ७८ जलयानों, २० स्थलीय ठिकानों एवं २०,००० नाविकों ने इसमें भाग लिया। किन्तु दुर्भाग्य से इस विद्रोह को भारतीय इतिहास मे समुचित महत्व नहीं मिल पाया है।
 
== परिचय ==
विद्रोह की स्वत:स्फूर्त शुरुआत नौसेना के सिगनल्स प्रशिक्षण पोत 'आई.एन.एस. तलवार' से हुई। नाविकों द्वारा खराब खाने की शिकायत करने पर अंग्रेज कमान अफसरों ने नस्ली अपमान और प्रतिशोध का रवैया अपनाया। इस पर 18 फरवरी को नाविकों ने भूख हड़ताल कर दी। हड़ताल अगले ही दिन कैसल, फोर्ट बैरकों और बम्बई बन्दरगाह के 22 जहाजों तक फैल गयी। 19 फरवरी को एक हड़ताल कमेटी का चुनाव किया गया। नाविकों की माँगों में बेहतर खाने और गोरे और भारतीय नौसैनिकों के लिए समान वेतन के साथ ही आजाद हिन्द फौज के सिपाहियों और सभी राजनीतिक बन्दियों की रिहाई तथा [[इण्डोनेशिया]] से सैनिकों को वापस बुलाये जाने की माँग भी शामिल हो गयी। विद्रोही बेड़े के मस्तूलों पर कम्युनिस्ट पार्टी, कांग्रेस और मुस्लिम लीग के झण्डे एक साथ फहरा दिये गये। 20 फरवरी को विद्रोह को कुचलने के लिए सैनिक टुकड़ियाँ बम्बई लायी गयीं। नौसैनिकों ने अपनी कार्रवाइयों के तालमेल के लिए पाँच सदस्यीय कार्यकारिणी चुनी। लेकिन शान्तिपूर्ण हड़ताल और पूर्ण विद्रोह के बीच चुनाव की दुविधा उनमें अभी बनी हुई थी, जो काफी नुकसानदेह साबित हुई। 20 फरवरी को उन्होंने अपने-अपने जहाजों पर लौटने के आदेश का पालन किया, जहाँ सेना के गार्डों ने उन्हें घेर लिया। अगले दिन कैसल बैरकों में नाविकों द्वारा घेरा तोड़ने की कोशिश करने पर लड़ाई शुरू हो गयी जिसमें किसी भी पक्ष का पलड़ा भारी नहीं रहा और दोपहर बाद चार बजे युध्द विराम घोषित कर दिया गया। एडमिरल गाडफ्रे अब बमबारी करके नौसेना को नष्ट करने की धमकी दे रहा था। इसी समय लोगों की भीड़ गेटवे ऑफ इण्डिया पर नौसैनिकों के लिए खाना और अन्य मदद लेकर उमड़ पड़ी।
 
नौसेना विद्रोह ने कांग्रेस और लीग के वर्ग चरित्र को एकदम उजागर कर दिया। नौसेना विद्रोह और उसके समर्थन में उठ खड़ी हुई जनता की भर्त्सना करने में लीग और कांग्रेस के नेता बढ़-चढ़कर लगे रहे, लेकिन सत्ता की बर्बर दमनात्मक कार्रवाई के खिलाफ उन्होंने चूँ तक नहीं की। जनता के विद्रोह की स्थिति में वे साम्राज्यवाद के साथ खड़े होने को तैयार थे और स्वातन्त्रयोत्तर भारत में साम्राज्यवादी हितों की रक्षा के लिए वे तैयार थे। जनान्दोलनों की जरूरत उन्हें बस साम्राज्यवाद पर दबाव बनाने के लिए और समझौते की टेबल पर बेहतर शर्तें हासिल करने के लिए थी।
 
== इन्हें भी देखें ==
* [[गदर पार्टी]]
* [[भारत की स्वतंत्रता का प्रथम संग्राम]]
 
== बाहरी कड़ियाँ ==
* [http://nazehindsubhash.blogspot.com/2010/11/53.html ऐसे मिली आजादी]
* [http://www.bbc.co.uk/hindi/regionalnews/story/2005/06/printable/050616_mutiny_account.shtml नौसैनिकों ने किया था एक बड़ा विद्रोह]
* [http://www.amarujala.com/Vichaar/VichaarColDetail.aspx?nid=165&tp=b&Secid=47 एक विद्रोह की याद]
* [http://www.tribuneindia.com/2002/20020224/spectrum/main3.htm 'The Tribune: RIN Mutiny - The lesser known mutiny]
* [http://www.tribuneindia.com/1999/99feb25/edit.htm*7 'Madan Singh and B.C Dutt honoured at last']
* [http://www.tribuneindia.com/2004/20040321/spectrum/main5.htm 'Interview with Madan Singh, Vice president of the Central Strike Committee']
* [http://www.tribuneindia.com/2007/20070630/edit.htm*5 'Goodbye to Madan the Mutineer']
* [http://www.mumbaipluses.com/downtownplus/index.aspx?page=article&sectid=2&contentid=20080228200802281108025381e256140&sectxslt=&comments=true&pageno=1 'A Statue of Stature']
* [http://www.tribuneindia.com/2006/20060212/spectrum/main2.htm '60th anniversary of RIN mutiny']
* [http://www.marxist.com/1946-rebellion-indian-navy150903-5.htm 'A marxist interpretation of the Events']
* http://www.dawn.com/weekly/dmag/archive/060219/dmag14.htm
* http://www.indiannavy.nic.in/under2ensigns.pdf
* Centre for South Asian Studies, School of Social & Political Studies,[[University of Edinburgh]], http://www.csas.ed.ac.uk/index.php.
* [http://www.bbc.co.uk/education/beyond/factsheets/makhist/makhist3_prog12a.shtml 'The Bombay Mutiny, 1946', ''Beyond the Broadcast'', BBC]
 
{{भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम}}
74,334

सम्पादन