"बनू हाशिम" के अवतरणों में अंतर

19 बैट्स् जोड़े गए ,  7 वर्ष पहले
छो
Bot: अंगराग परिवर्तन
(नया पृष्ठ: File:Map of Arabia 600 AD.svg|thumb|250px|६०० ईसवी में अरबी क़बीलों का विस्तार जिसमें क़...)
 
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
[[Fileचित्र:Map of Arabia 600 AD.svg|thumb|250px|६०० ईसवी में अरबी क़बीलों का विस्तार जिसमें क़ुरैश भी देखे जा सकते हैं (बनू हाशिम क़ुरैश की उपशाखा है)]]
'''बनू हाशिम''' (<small>[[अरबी भाषा|अरबी]]: {{Nastaliq|ur|بنو هاشم}}, [[अंग्रेज़ी]]: Banu Hashim</small>) एक [[अरब लोग|अरबी क़बीला]] है जो बड़े [[क़ुरैश क़बीले]] की एक उपशाखा है। इसका नाम [[पैग़म्बर मुहम्मद]] के पर-दादा हाशिम (<small>{{Nastaliq|ur|هاشم}}, Hashim</small>) पर रखा गया है और इसके सदस्य अपने-आप को उनका वंशज मानते हैं। [[अरबी भाषा]] में 'बनू' का मतलब 'बेटे' होता है और 'बनू हाशिम' का मतलब 'हाशिम के बेटे' है।<ref name="ref36durap">[http://books.google.com/books?id=XuBrAAAAIAAJ The eternal message of Muhammad], Abdel Rahman Azzam, Devin-Adair Co., 1964, ''... Muhammad's immediate family on his father's side were the Banu-Hashim or Hashimites, so named for Muhammad's great-grandfather Hashim. (Banu means sons of, and is the plural of ibn) ...''</ref> बनू हाशिम क़बीले के सदस्य अकसर 'हाशमी', 'हुसैनी' और 'हसनी' जैसे नाम रखते हैं। पारम्परिक [[क़हतानी]]-[[अदनानी]] अरब श्रेणीकरण के नज़रिए से बनू हाशिम [[अदनानी क़बीला]] है।
 
== इन्हें भी देखें ==
* [[क़ुरैश क़बीला]]
* [[मुदर क़बीला]]
* [[अदनानी क़बीला]]
* [[अरब लोग]]
 
== सन्दर्भ ==
<small>{{reflist|2}}</small>
 
[[en:Banu Hashim]]
[[fa:بنی‌هاشم]]
[[fi:Banū Hāshim]]
[[id:Bani Hasyim]]
[[it:Banu Hashim]]
[[fi:Banū Hāshim]]
[[sv:Hashim]]
[[ur:بنو ھاشم]]
74,334

सम्पादन