"उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, लखनऊ" के अवतरणों में अंतर

(→‎पता: अद्यतन किया)
(→‎प्रमुख योजनायें: सुधार किये)
== प्रमुख योजनायें ==
; साहित्य
साहित्यिक केन्द्रों की स्थापना, छात्रोंदेशी/विदेशी छात्रों को शोध कार्यो हेतु सहायता, फेलोशिपफैलोशिप योजना, साहित्यकार कल्याण कोष, स्मृति संरक्षण योजना, बाल साहित्य, संवर्धन योजनायोजना।
 
; प्रकाशन
[[चिकित्सा विज्ञान]] एवं तकनीकी पुस्तकों का लेखन, भारतीय भाषाओं की प्रमुख कृतियों का [[अनुवाद]], साहित्यिक पत्र-पत्रिकाओं का प्रकाशनप्रकाशन।
 
; प्रचार-प्रसार
अहिन्दी भाषी क्षेत्रों में भारतीय भाषाओं को प्रोत्साहन, [[विश्व हिन्दी सम्मेलन]] एवं अंतर्राष्ट्रीयअन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर संस्थान की सहभागितासहभागिता।
 
; पुरस्कार-सम्मान
संस्थान भारत भारती, हिन्दी गौरव, महात्मागांधीमहात्मा गान्धी, अवन्तीबाईअवन्ती बाई, साहित्य भूषण जैसे सम्मानों सहित कुल 83 पुरस्कार ( 52 लाख रू0रु० की धनराशि से ) [[साहित्य]], [[कला]], [[विज्ञान]] के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए पुरस्कार प्रदान करता है। यह विदेशों में हिन्दी के प्रसार में योगदान के लिये पुरस्कार भी देता है।
 
उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान [[साहित्य]], [[कला]], [[विज्ञान]] के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए पुरस्कार प्रदान करती है। यह विदेशों में हिंदी के प्रसार में योगदान के लिए भी पुरस्कार देती है।द्वारा [[पत्रकारिता]] के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थानलिये [[गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार]] प्रदानपुरस्कार करतीसहित है।साहित्य इसकेके विविध क्षेत्रों के अलावालिये [[भारत- भारती सम्मान]], [[राम मनोहर लोहिया]] साहित्य सम्मान]], [[महात्मा गांधीगान्धी]] सम्मान]], [[हिंदीहिन्दी गौरव सम्मान]], [[बालकृष्ण भट्ट पुरस्कार]] पुरस्कार, [[पत्रकारिता भूषण पुरस्कार]], [[प्रवासी भारतीय हिंदीहिन्दी भूषण सम्मान]], तथा [[हिंदीहिन्दी विदेश प्रसार सम्मान]] आदि कई पुरस्कार दिये जाते हैं।
 
== पता ==
6,802

सम्पादन