"ईरान का इतिहास" के अवतरणों में अंतर

16 बैट्स् नीकाले गए ,  13 वर्ष पहले
 
==आधुनिक काल==
रजा शाह ने १९३० के दशक में ईरान का आधुनिकीकरण प्रारंभ किया ।किया। पर वो अपने प्रेरणस्रोत तुर्की के कमाल फाशा की तरह सफल नहीं रह सका ।सका। उसने शिक्षा के लिए अभूतपूर्व बंदोबस्त किए तथा सेना को सुगठित किया ।किया। उसने तुर्की के कमाल पाशा की तरह देश के कार्यों में धर्म का प्रभाव कम किया ।किया। कट्टर इस्लामियों को जेल या देश निकाला की सज़ा दी गई ।गई। अयातोल्लाह खुमैनी इसी के तहत पहले इराक़, फिर इस्ताम्बुल और उसके बाद पेरिस में रहे ।रहे। उसके बाद १९७९ में एक और आन्दोलन हुआ जिसका कारण धार्मिक था ।था। इसके फलस्वरूप पहलवी वंश का पतन हो गया और अयातोल्ला खोमैनी को सत्ता मिली ।मिली। उनका देहांत १९८९ में हुआ ।हुआ। उनके शासन काल में ही इस्लामी प्रभाव के तहत उन्हें लेखक सलमान रश्दी के ख़िलाफ़ फ़तवा जारी करना पड़ा ।पड़ा। इसके बाद से ईरान में विदेशी प्रभुत्व लगभग समाप्त हो गया ।गया।
 
मोहम्मद ख़ातमी सुधारवादी आन्दोलन हुए ।हुए। अभी ईरान में सख़्त इस्लामी नियम लागू हैं और महिलाओं को हिज़ाब पहनने की विवशता है ।है। हंलाँकि तेल से पैसे आ जाने की वजह से शहरों में जनजीवन विलासिता पूर्ण है पर इस्लामिक कानून (शरियत) के सख़्त दायरे के भीतर रहकर ।रहकर। राष्ट्रपति अहमदी निज़ाद (अहमनदेनिजाद) पर अपने परमाणु कार्यक्रम रोकने की भरपूर अंतर्राष्ट्रीय दबाब बनाया जा रहा है ।है। अमेरिका सहित कई देशों ने आर्थिक प्रतिबंध लगाने शुरुशुरू कर दिये है और इसरायल सैनिक कार्यवाही की धमकी दे रहा है ।है।
 
 
133

सम्पादन