"ख़ालसा" के अवतरणों में अंतर

39 बैट्स् जोड़े गए ,  7 वर्ष पहले
 
== पूर्व इतिहास ==
सिख धर्म के ऊपर अन्य धर्मों और सरकारी नुमयिन्दो के वार लगातार बढ़ गए थे | सरकार को गलत खबरें दे कर हिन्दू धर्म और इस्लाम धर्म के कटड अनुययों ने [[सतगुर अर्जुन देव]] को मौत की सजा दिलवा दी | जब सतगुर अर्जुन देव, को बहुत दुःख दे कर शहीद कर दिया गया तो [[सतगुर हरगोबिन्द]] जी ने तलवार उठा ली | यह तलवार सिर्फ आत्म रक्षा और आम जनता की बेहतरी के लिए उठाई थी | सतगुर हरगोबिन्द के जीवन में उन पर लगातार ४ हमले हुए और सतगुर हरि राए पर भी एक हमला हुआ | [[सतगुर हरि कृष्ण]] को भी बादशाह औरंगजेब ने भी अपना अनुयायी बनाने की कोशिश की |
 
[[सतगुर तेघ बहादुर]] को सरकार ने मौत के घात उतार दिया, क्यों वो हिन्दू ब्रह्मिनो के दुखों को देख कर सरकार से अपील करने गए थे | उसके बाद हिन्दू पहाड़ी राजे और सरकारी अहलकारों से सदा ही गुरमत के प्रचार से खतरा रहता था और वो ध्वस्त करना चाहते थे | इस बीच गुरु गोबिंद सिंह ने कुछ बानियों की रचना की जिस में हिन्दू धर्म और इस्लाम के खिलाफ सख्त टिप्पणियाँ थी |
बेनामी उपयोगकर्ता