"गैसों का अणुगति सिद्धान्त": अवतरणों में अंतर

छो (Bot: Migrating 37 interwiki links, now provided by Wikidata on d:q200286 (translate me))
== अणुगति सिद्धान्त की मान्यताएँ (Postulates) ==
[[आदर्श गैस|आदर्श गैसों]] के लिये यह सिद्धान्त निम्नलिखित मान्यताओं (assumptions) पर आधारित है-
 
* गैस बहुत ही छोटे कणों से मिलकर बनी है जिनका [[द्रव्यमान]] '''शून्य नहीं''' है।
 
* The number of molecules is large such that statistical treatment can be applied.
* अणुओं की संख्या इतनी अधिक है कि सांख्यिकीय निरूपण का प्रयोग किया जा सकता है।
* These molecules are in constant, [[randomness|random]] motion. The rapidly moving particles constantly collide with the walls of the container.
 
* The collisions of gas particles with the walls of the container holding them are perfectly elastic.
* ये अणु लगातार [[यादृच्छ गति]] कर रहे हैं। तेजी से गति करते हुए ये अणु बर्तन की दीवार से लगातार टकराते रहते हैं।
* The [[interaction]]s among molecules are [[negligible]]. They exert no [[force]]s on one another except during collisions.
 
* The total [[volume]] of the individual gas molecules added up is negligible compared to the volume of the container. This is equivalent to stating that the average distance separating the gas particles is large compared to their [[dimension|size]].
* बर्तन की दीवारों के साथ गैस के अणुओं का [[संघट्टा]]] पूर्ण प्रत्यास्थ संघट्ट है।
* The molecules are perfectly spherical in shape, and elastic in nature.
 
* The average [[kinetic energy]] of the gas particles depends only on the [[thermodynamic temperature|temperature]] of the [[system]].
* अणुओं के बीच परस्पर अन्योन्यक्रिया नगण्य है। संघट्ट को छोड़कर किसी अन्य स्थिति में वे एक-दूसरे पर कोई बल नहीं लगाते ।
* [[Special relativity|Relativistic]] effects are negligible.
 
* [[Quantum mechanics|Quantum-mechanical]] effects are negligible. This means that the inter-particle distance is much larger than the [[thermal de Broglie wavelength]] and the molecules can be treated as [[classical mechanics|classical]] [[physical body|objects]].
* बर्तन के आयतन की तुलना में गैस के अणुओं का अपना आयतन नगण्य है। दूसरे शब्दों में, गैस के कणों के बीच की औसत दूरी उन कणों के अपने आकार की तुलना में बहुत अधिक है।
* The time during collision of molecule with the container's wall is negligible as comparable to the time between successive collisions.
 
* The equations of motion of the molecules are time-reversible.
* अणुओं का आकार पूर्णतः [[गोला|गोल]] है। उनकी प्रकृत्ति पूर्णतः प्रत्यास्थ है।
 
* गैस के कणों की औसत [[गतिज ऊर्जा]] केवल उस निकाय के [[तापमान]] पर निर्भर करती है।
 
* [[विशिष्ट आपेक्षिकता|आपेक्षिक प्रभाव]] नगण्य हैं।
 
* [[क्वाण्टम यांत्रिकी|क्वाण्टम यांत्रिक]] प्रभाव नगण्य हैं। इसका अर्थ यह हुआ कि कणों के बीच की दूरी [[डी ब्रागली तरंगदैर्घ्य]] की तुलना में बहुत अधिक है, और अणुओं को चिरसम्म्त यांत्रिकी के पिण्डॉं की तरह माना जा सकता है।
 
* बर्तन की दीवारों के साथ अणुओं के संघट्ट का समय, दो संघट्टों के बीच के औसत समय की तुलना में नगण्य है।
 
* अणुओं के गति के समीकरण काल-व्युत्क्रमणीय (time-reversible) हैं।
 
== अणुगति सिद्धान्त का मूलभूत समीकरण ==