"धातु" के अवतरणों में अंतर

309 बैट्स् जोड़े गए ,  7 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
 
----
 
[[चित्र:Металлы.JPG|thumb|300px|right|'''धातुएँ''' - मानव सभ्यता के पूरे इतिहास में सर्वाधिक प्रयुक्त पदार्थों में धातुएँ भी हैं]]
[[चित्र:Hot metalwork.jpg|thumb|250px|लुहार द्वारा धातु को गर्म करने पर]]
[[रसायनशास्त्र]] के अनुसार '''धातु''' (metals) वे [[तत्व]] हैं जो सरलता से [[इलेक्ट्रान]] त्याग कर धनायन बनाते हैं और धातुओं के परमाणुओं के साथ धात्विक बंध बनाते हैं। इलेक्ट्रानिक मॉडल के आधार पर, धातु इलेक्ट्रानों द्वारा आच्छादित धनायनों का एक लैटिस हैं।
 
धातुओं की पारम्परिक परिभाषा उनके बाह्य गुणों के आधार पर दी जाती है। सामान्यतः धातु चमकीले, [[प्रत्यास्थता|प्रत्यास्थ]], [[आघातवर्धनीयता|आघातवर्धनीय]] और सुगढ होते हैं। धातु [[उष्मा]] और [[विद्युत]] के अच्छे [[विद्युत चालकता|चालक]] होते हैं जबकि [[अधातु]] सामान्यतः [[भंगुर]], चमकहीन और विद्युत तथा ऊष्मा के [[कुचालक]] होते हैं।
 
== परिचय ==