"स्थानापन्न मातृत्व": अवतरणों में अंतर

(वेब्साईट)
[[हिन्दू धर्म]] विशेष परिस्थितियों मे बंजरपन और कृत्रिम गर्भदान को अनुभूति देति है। और इस मे पित के [[शुक्राणुओं]] का उपयोग करते है ताकि बच्चे को अपने वन्श क पत हो।
बौद्ध् धर्म इस प्रक्रिया को पूरी तरह स्वीकार किया है क्योकी बौद्द धर्म प्रसव को नैतिक कर्तव्यों मे से नहीं माना गया है। <ref name=kannan>[http://news.bbc.co.uk/2/hi/business/7935768.stm Regulators eye India's surrogacy sector.] By Shilpa Kannan. India Business Report, BBC World. Retrieved on 23 Mars, 2009</ref><ref>http://twocircles.net/2011oct11/surrogacy_mirror_hinduism_and_islam.html</ref> <ref>http://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3531011/</ref>
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
 
== '''संदर्भ''' ==
{{टिप्पणीसूची}}
22

सम्पादन