"सम्भल": अवतरणों में अंतर

656 बाइट्स हटाए गए ,  8 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
छो (Bot: अंगराग परिवर्तन)
No edit summary
शेरशाह सूरी ने हुमायूँ सूरी को खदेड़ दिया और अपने दामाद मुबारिज़ ख़ाँ को सम्भल की जागीर दी।
अब्बास ख़ाँ शेरवानी के अनुसार बाबर के सेनापतियों ने यहाँ कई मन्दिरों को तोड़ा था और जैन मूर्तियों का खण्डन किया था।
 
== जनसांख्यिकी ==
२००१ की भारतीय जनगणना के अनुसार सम्भल की जनसँख्या १८२, ९३० थी. जनसँख्या का ५३% भाग पुरुष व ४७% भाग महिलाएं हैं. सम्भल की साक्षरता दर राष्ट्रीय औसत ५९.५% से कम ३५% है: पुरुष साक्षरता ४०% व महिला साक्षरता २९% है. सम्भल में, १८% जनसँख्या ६ वर्ष की आ
 
== इतिहास ==
गुमनाम सदस्य