"पाल इल्यार" के अवतरणों में अंतर

17 बैट्स् जोड़े गए ,  6 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
मैं या और कोई
यदि कोई तो फिर कुछ नहीं होगा।
</poem>|source = '''पाल इल्यार की एक कविता का भावानुवादहिंदी में अनुवाद<ref>http://hindi.webdunia.com/miscellaneous/nri/nrilitrature/0810/21/1081021025_1.htm</ref>
}}