"अनंत पई": अवतरणों में अंतर

10 बाइट्स हटाए गए ,  8 वर्ष पहले
छो
पूर्ण विराम की स्थिति ठीक की।
छो (Bot: Migrating 6 interwiki links, now provided by Wikidata on d:q3518958 (translate me))
छो (पूर्ण विराम की स्थिति ठीक की।)
'''अनंत पई''' (17 सितम्बर 1929, [[कार्कल]], [[कर्नाटक]] — 24 फरवरी 2011, [[मुंबई]]), जो '''अंकल पई''' के नाम से लोकप्रिय थे, भारतीय शिक्षाशास्री और कॉमिक्स, ख़ासकर [[अमर चित्र कथा]] श्रृंखला, के रचयिता थे ।थे। इंडिया बुक हाउज़ प्रकाशकों के साथ 1967 में शुरू की गई इस कॉमिक्स श्रृंखला के ज़रिए बच्चों को परंपरागत भारतीय लोक कथाएँ, पौराणिक कहानियाँ और ऐतिहासिक पात्रों की जीवनियाँ बताई गईं ।गईं। 1980 में ''टिंकल'' नामक बच्चों के लिए पत्रिका उन्होंने रंग रेखा फ़ीचर्स, भारत का पहला कॉमिक और कार्टून सिंडिकेट, के नीचे शुरू की. 1998 तक यह सिंडिकेट चला, जिसके वो आख़िर तक निदेशक रहे ।रहे।
 
दिल का दौरा पड़ने से 24 फरवरी 2011 को शाम के 5 बजे अनंत पई का निधन हो गया ।गया।
 
आज अमर चित्र कथा सालाना लगभग तीस लाख कॉमिक किताबें बेचता है, न सिर्फ़ अंग्रेजी में बल्कि 20 से अधिक भारतीय भाषाओं में ।में। 1967 में अपनी शुरुआत से लेकर आज तक अमर चित्र कथा ने 10 करोड़ से भी ज़्यादा प्रतियाँ बेची हैं ।हैं। 2007 में अमर चित्र कथा ACK Media द्वारा ख़रीदा गया ।गया।
 
== शुरुआती ज़िन्दगी और शिक्षा ==
 
[[कर्नाटक]] के [[कार्कल]] शहर में जन्मे अनंत के माता पिता का देहांत तभी हो गया था, जब वो महज दो साल के थे ।थे। वो 12 साल की उम्र में मुंबई आ गए ।गए। [[मुंबई विश्वविद्यालय]] से दो डिग्री लेने वाले पई का कॉमिक्स की तरफ़ रुझान शुरु से था लेकिन अमर चित्रकथा की कल्पना तब हुई, जब वो [[टाइम्स ऑफ इंडिया]] के कॉमिक डिवीजन से जुड़े ।जुड़े।
 
== कृतियाँ ==