"ग्वालियर ज़िला" के अवतरणों में अंतर

3 बैट्स् नीकाले गए ,  6 वर्ष पहले
छो
पूर्णविराम (।) से पूर्व के खाली स्थान को हटाया।
छो (बॉट से अल्पविराम (,) की स्थिति ठीक की।)
छो (पूर्णविराम (।) से पूर्व के खाली स्थान को हटाया।)
'''ग्वालियर जिला''' [[भारत|भारतीय]] राज्य [[मध्य प्रदेश]] का एक [[जिला]] है। यह जिला ग्वालियर के राजस्व संभाग के अन्तर्गत है।<ref name=Gwalior>[http://gwalior.nic.in/about_hindi.html ग्वालिय‍र जिला का एनआइसि का जालस्थल]</ref> यह जिला ग्वालियर राज्य के उत्तरी भाग में २५ ० ३४’ उ० और २६० २१’ उ० अक्षांश तथा ७७० ४०’ पू० और ७८० ५४’ पू० देशांश के बीच स्थित है ।है।<ref name=Gwalior/> यह जिला २००२ वर्गमील क्षेत्र में फैला हुआ है, जो मध्य प्रदेश राज्य के कुल क्षेत्रफल का करिब १.१ प्रतिशत है।<ref name=Gwalior/> ग्वालियर सन १९४८ से १९५६ तक मध्य भारत की राजधानी रहा लेकिन जब मध्य भारत मध्य प्रदेश में जुड़ा तब इसे जिले का स्वरुप दिया गया।
 
 
 
== भूगोल ==
यह जिल्ला उत्तर में मुरैना जिले से पश्चिचम में शिवपुरी, पूर्व में भिंड तथा दक्षिण में दतिया जिले से धिरा हुआ हैं।<ref name=Gwalior/> ग्वालियर जिले में तीन तहसील हैं-ग्वालियर(गिर्द), डबरा तथा भितरवार। इस जिमा में चार विकास-खण्ड है घांटीगांव(बरई), मुरार, डबरा तथा भितरवार। इस जिला में तीन नगर पंचायत है बिलौआ,पिछोर एवं आंतरी। इस जिला में दो नगरपालिका डबरा व भितरवार एंव ग्वालियर नगरनिगम अवस्थित है। इस जिले में कुल 300 ग्राम पंचायत, 660 ग्राम है जिनमें से 598 आबाद ग्राम है व 62 वीरान है ।है।<ref name=Gwalior/>
 
इस जिल के क्षेत्रफल इस प्रकार है<ref name=Gwalior/>
== अर्थतन्त्र ==
=== स्थानीय कच्चा पदार्थ ===
ग्वालियर क्षेत्र में विशेषतः बलुआ, पत्थर, मिट्टी,गेरू,कांच बनाने की बालु, कपड़ा,चमड़ा आदि ऊपलब्ध है ।है।<ref name=Gwalior/>